राजा का ताजपुर – दुकान में आग लगाने से दो लाख कपड़ा जलकर राख

राजा का ताजपुर। कृष्ण मंदिर के पास स्थित कपड़े की दुकान में बिजली के शॉर्ट सर्किट से लगी आग में लगभग दो लाख रुपए का कपड़ा जलकर राख हो गया। दुकान स्वामी मौ. सुल्तान निवासी ग्राम जमालपुर के अनुसार उसकी दुकान में कटपीस का माल था। रात्रि लगभग 3 बजे मौहल्ले के लोगों ने दुकान में आग लगने की सूचना दी। मौहल्ले के लोगों ने अपने प्रयास से आग बुझाने का प्रयास किया लेकिन तब तक दुकान का सारा कपड़ा जल चुका था। उसने बताया कि दुकान में खाली फिटिंग है। रात में विद्युत सप्लाई के दौरान फिटिंग में फाल्ट होने पर दुकान में आग लग गई।
सीसी टीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने दो को उठाया
नगीना। दो दिन पूर्व हैंडीक्राफ्ट कारोबारी की बाइक से चोरी हुए 90 हजार रुपए के मामले में पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर दो युवकों को हिरासत में लिया है। थाना प्रभारी अखिलेश प्रधान ने बताया कि दो दिन पूर्व मौहल्ला विश्नोई सराय निवासी हैंडीक्राफ्ट कारोबारी नितेश विश्नोई ने पंजाब नेशनल बैंक की शाखा से 99 हजार रुपए निकाले थे, जिनमें से 90 हजार रुपए उन्होंने थैले में रखकर बाइक की डिग्गी के साइड बैग में रख लिए थे। बैंक से कुछ कदम की दूरी पर जाने के बाद ही नितेश ने देखा तो बाइक के साइड बैग से नोटों का बैग गायब था, जिसकी सूचना उसने पुलिस को दी। मौके पर पहुंचकर पुलिस ने आसपास के दुकानदारों की दुकानों में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगाला और बुधवार को फटेज के आधार पर दो युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है।
युवती से छेड़छाड़ करने वाले को पुलिस ने फीलगुड कर छोड़ा
बिजनौर। अश्लील फब्तियां कसते हुए युवती के साथ छेड़छाड़ करने वाले आरोपी युवक को पुलिस ने फीलगुड कर छोड़ दिया। पुलिस ने पीडि़त पक्ष पर फैसले का दबाव बनाया और फैसला कराने के लिए आरोपी युवक के परिजनों से मोटी रकम वसूल की। स्थानीय मौहल्ला खत्रियान स्थित कांशीराम कालोनी निवासी एक युवती से कालोनी के ही रहने वाले भोलू नामक युवक ने अश्लील फब्तियां कसते हुए छेड़छाड़ की थी, जिसकी शिकायत युवती के परिजनों ने जाटान चौकी पुलिस से की थी। चौकी पर तैनात सिपाही भोलू को हिरासत में लेकर थाने ले आए थे और आरोपी को हवालात में बंद कर कार्यवाही शुरू कर दी थी। इसी बीच आरोपी के परिजनों ने थाने में तैनात दरोगा रोहित शमा्र से सम्पर्क किया। इसके बाद दरोगा ने अपना उल्लू सीधा करने के लिए युवती व उसके परिजनों को भला-बुरा कहना शुरू कर दिया। दरोगा ने युवती व उसके परिजनों के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज करने की धमकी देकर दबाव बनाया और छेड़छाड़ के आरोपी को बचाने के लिए उसके खिलाफ मुदमा भी दर्ज नहीं होने दयिा। दरोगा की एकपक्षीय कार्यवाही को देखते पीडि़ता के परिजन इंसाफ की जग शुरू होने से पहले ही हार गए और दरोगा के दबाव में फैसला कर लिया। छेड़छाड़ के आरोपी को बचाने क ेलिए दरोगा रोहित शर्मा ने मोटी रकम वसूली।

Leave a Reply

Your email address will not be published.