बिजनौर जिला पंचायत अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव ,36 सदस्यों ने डीएम को शपथ पत्र सौंपे…

बिजनौर। मंगलवार को जिला पंचायत अध्यक्ष कुंवर उद्यनवीरा के खिलाफ 36 बागी सदस्यों ने डीएम जगतराज को अविश्वास प्रताव देकर पुन: चुनाव कराने की मांग की। जिला पंचायत के 37 सदस्यों ने अविश्वास प्रस्ताव के संबंध में डीएम को हलफनामे दिये, जिनमें से एक सदस्य गैरहाजिर भी रहा। अविश्वास प्रस्ताव देने के बाद बागी सदस्यों ने साकेन्द्र प्रताप को भावी अध्यक्ष घोषित करते हुए कलेक्ट्रेट में जोरदार नारेबाजी की।
जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी को लेकर चल रहे घमासान के बीच पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत मंगलवार की शाम को जिला पंचायत सदस्य साकेन्द्र प्रताप के नेतृत्व में जिला पंचायत सदस्य कलेक्ट्रेट पहुंचे और डीएम को अविश्वास प्रस्ताव सौंपा। अविश्वास प्रस्ताव में मौजूदा जिला पंचायत अध्यक्ष कुंवर उद्यनवीरा पर विकास कार्यों में किये गये भ्रष्टïाचार व सदस्यों को अपमानित करने आदि गंभीर आरोप लगाये गये हैं। डीएम श्री जगतराज ने अविश्वास प्रताव के संबंध में एक-एक कर बागी सदस्यों के शपथ पत्र लिये। जिला पंचायत के कुल 57 सदस्यों में से 37 सदस्यों ने अविश्विास प्रताव के समर्थन में शपथ पत्र दिये, जिनमें से एक सदस्य मौजूद नहीं था। इस तरह कुल 36 सदस्यों के शपथ पत्र स्वीकार किये गये। शपथ पत्रों का परीक्षण करने के बाद डीएम श्री जगतराज चुनाव की तारीख तय करेंगे। अविश्वास प्रस्ताव देते समय कलेक्ट्रेट में बागी जिला पंचायत सदस्यों के साथ जिले की अलग-अलग पार्टियों के कई बड़े नेता भी थे। वहीं क्षेत्रीय भाजपा सांसद राजा भारतेन्द्र सिंह ने भी बागी सदस्यों के साथ पीडब्लूडी के गैस्ट हाऊस में बैठक की और उन्हें अपना समर्थन दिया। बागी सदस्य दो लग्जरी बसों में बैठकर अविश्वास प्रस्ताव देने कलेक्ट्रेट पहुंचे। अविश्वास प्रस्ताव देने से पहले सदस्यों ने साकेन्द्र प्रताप को भावी जिला पंचायत अध्यक्ष घोषित करते हुए उनके समर्थन में जोरदार नारेबाजी की। सदस्यों ने जिला पंचायत अध्यक्ष कुंवर उद्ïयनवीरा व पूर्व सदर विधायक कुंवरानी रुचि वीरा के खिलाफ भी नारे लगाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.