बिजनौर जिला अस्पताल में अव्यवस्थाएं देख नाराज हुए डीएम…

अधिकारियों को फटकार लगाई, महिलाओं ने की रात को डिलीवरी न कराने की शिकायत

बिजनौर। जिलाधिकारी श्री जगतराज ने जिला संयुक्त चिकित्सालय का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने अव्यवस्थाएं व गंदगी देखकर नाराजगी व्यक्त करते हुए अस्पताल अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई। डीएम के निरीक्षण से अस्पताल स्टाफ में हड़कम्प मचा रहा।
बुधवार को जिलाधिकारी जगतराज निरीक्षण के लिए सबसे पहले महिला अस्पताल पहुंचे और डाक्टरों व अन्य स्टाफ का उपस्थिति रजिस्टर चैक किया। रजिस्टर में चार डाक्टरों को गैरहाजिर देखकर डीएम ने जवाब तलब किया तो प्रभारी सीएमएस ने बताया कि शिफ्टवार ड्यूटी होने की वजह से चार डाक्टरों के हस्ताक्षर नहीं किए हैं, जिसके बाद डीएम ने डाक्टरों की ड्यूटी के आगे उनकी शिफ्ट व समय अंकित करने के निर्देश दिए जिससे पता चल सके कि किस डाक्टर का ड्यूटी समय क्या है। निरीक्षण के दौरान महिला अस्पताल के टायलेट में टूटी हुई शीट देखकर स्टाफ को जमकर फटकार लगाई और तुरन्त शीट लगाने के निर्देश दिए। एक महिला ने शिकायत करते हुए डीएम से बताया कि रात के समय अस्पताल में गर्भवती महिलाओं की आपे्रशन से डिलीवरी नहीं की जाती। उन्हें सर्जन न होने का बहाना बनाकर प्राइवेट अस्पतालों में जाने को कहा जाता है। इसके बाद डीएम पुरुष अस्पताल पहुंचे और डाक्टरों के कक्ष, दवाई वितरण कक्ष, एक्सरे विभाग व मरीजों के वार्ड आदि का निरीक्षण किया। उन्होंने मरीजों से मिलने वाले उपचार व सुविधाओं के बारे में भी जानकारी दी और गंदगी व अन्य अव्यवस्थाओं पर नाराजगी व्यक्त करते हुए सीएमएस डा. राकेश दूबे को सुधार करने के निर्देश दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.