बिजनौर – चुनावों के दौरान कानून कीबालादस्ती कायम रहे-कमिश्नर

अपराधियों पर नजर रखें, चुनाव निष्पक्षता के साथ सम्पन्न कराएं-डीआईजी

बिजनौर। मुरादाबाद मण्डल के कमिश्वर राजेश कुमार सिंह ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि निर्वाचन प्रक्रिया एक संवैधानिक एवं लोकतांत्रिक कार्य है, जिसे पूरी निष्पक्षता के साथ सम्पन्न कराना हमारी जिम्मेदारी है।
उन्होनें नगर निकाय सामान्य निर्वाचन-2017 को जिले में पूर्ण रूप से निष्पक्ष, स्वतंत्र और भयमुक्त वातावरण में सम्पन्न कराने के लिये सभी प्रशासनिक एंव पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए कि निष्पक्ष एवं ईमानदारी के साथ चुनाव कराना सुनिश्चित करें और सम्पूर्ण प्रक्रिया में राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा दिये गये निर्देशों का पालन सख्ती के साथ करायें तथा इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही सहन नही की जायेगी तथा संबंधित अधिकारी के विरूद्व कठोर कार्यवाही की जायेगी। उन्होंंने पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिये कि चुनाव में बाधा डालने अथवा किसी भी रूप में चुनाव प्रक्रिया को प्रभावित करने वाले व्यक्ति या व्यक्तियों के विरूद्व कठोर दण्डात्मक कार्यवाही अमल में और पूरी निर्भीकता और निष्पक्षता के साथ कानून की बालादस्ती बनायें रखें।
मण्डलायुक्त श्री राजेश कुमार कलैक्ट्रेट सभागार में नगर निकाय सामान्य निर्वाचन-2017 को निष्पक्ष, निर्वाध, स्वतंत्र और पारदर्शी रूप से सम्पन्न कराने के लिए जिले के पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों एवं निर्वाचन से जुडे अधिकारियो को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने जिले में चुनाव लड़ रहे प्रत्याशियों विशेष रूप से अध्यक्ष पद के लिए नामांकन कराने वाले उम्मीदवारों के बारे में आवश्यक जानकारी प्राप्त की और निर्देश दिये कि यदि चुनाव लडऩे वाले प्रत्याशियों में किसी का अपराधिक रिकार्ड हो तो उस पर विशेष रूप से नजऱ रखी जाए और उसे समझा दिया जाए कि प्रशासन कानून की बालादस्ती कायम रखने के लिए कटिबद्व है और चुनाव प्रक्रिया को किसी रूप में बाधित अथवा प्रभावित करने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने के लिए तत्पर है।
उन्हेांने यह भी निर्देश दिये कि समय रहते बैलेटपेपर प्राप्त कर लिए जायें और मत पेटिकाओं की आवश्यक सफाई करा ली जाए। मतदान सामग्री को चैक लिस्ट के आधार पर मतदान कार्मिकों को वितरित किया जाए ताकि मतदान के समय किसी भी प्रकार की कोई असुविधा न होने पाए। इस अवसर पर पर डीआईजी ओंकार सिंह ने नगर निकायों में तैनात थानाध्यक्षों से पोलिगं बूथों की संवेदनशीलता की स्थिति, अस्लाह जमा कराने की प्रगति, मुचलका कार्यवाही आदि की थानावार जानकारी प्राप्त की और कड़े निर्देश देते हुए कहा कि क्षेत्र में जातिवाद अथवा सम्प्रदायिक सम्बन्धी किसी भी घटना को गम्भीरता से लें और स्वयं मौके पर जाकर स्थिति का जायजा लें ताकि कोई मामूली घटना विकराल घटना में परिवर्तित न होने पाए। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि अपराधियों पर कड़ी नजऱ रखें और पूरी सजगता और निष्पक्षता के साथ चुनाव सम्पन्न करायें। मीटिंग के दौरान मण्डलायुक्त को जिलाधिकारी जगतराज द्वारा आश्वस्त कराते हुए कहा गया कि सम्पूर्ण निर्वाचन प्रक्रिया राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशों के अनुपालन में सम्पन्न करायी जाएगी। उन्होंने बताय कि राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशों के अनुपालन में निर्वाचन में अपने दायित्वों का निर्वहन करने वाले सभी अधिकारियों एवं मतदान कार्मिकों को विशेष प्रशिक्षण उपलब्ध करा दिया गया है, ताकि सभी अधिकारी एवं कर्मचारी सुव्यस्थित रूप से अपनी जिम्मेदारियों को निभायें और सम्पूर्ण निर्वाचन प्रक्रिया निष्पक्ष, सुचारू और बिना किसी दबाव के सम्पन्न करा सकें। उन्होनें कहा कि जिला प्रशासन नगर निकाय निर्वाचन को निष्पक्ष, स्वतंत्र और भयमुक्त वातावरण में सम्पन्न कराने के लिए दृढ़ संकल्प है। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चैधरी, मुख्य विकास अधिकारी डा. इन्द्रमणि त्रिपाठी, अपर जिलाधिकारी प्रशासन मदन सिंह गब्र्याल, अपर जिलाधिकारी वि./रा. सुरेन्द्र राम, अपर पुलिस अधीक्षक, पुलिस क्षेत्राधिकारी, थाना प्रभारी, उपजिलाधिकारी सहित सभी जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.