पाकिस्तान को पीटकर भारत सुपर फोर में…

ढाका, 15 अक्टूबर। चिंगलेनसाना कंगुजम, रमनदीप सिंह और हरमनप्रीत सिंह के एक-एक गोलों की बदौलत भारत ने चिर प्रतिद्वंद्वी पकिस्तान को रविवार को एशिया कप हॉकी टूर्नामेंट के महा मुक़ाबले में 3-1 से हराकर सुपर फोर में जगह बना ली।
भारत ने इस तरह पूल ए में जीत की हैट्रिक पूरी की। चिंगलेनसाना ने 17 वें, रमनदीप ने 44वें और ड्रैग फ्लिकर हरमनप्रीत ने 45 वें मिनट में गोल किये। भारत ने इससे पहले जापान को 5-1 से और बंगलादेश को 7-0 से हराया था। भारत ने मैच में 3-0 की बढ़त बनाई थी जिसके बाद पाकिस्तान ने अली शान के 49 वें मिनट के गोल से हार का अंतर घटाया। इस बीच पूल ए के अन्य मुक़ाबले में जापान ने बंगलादेश को 3-1 से हराया। भारत लगातार तीसरी जीत के बाद पूल ए नौ अंकों के साथ शीर्ष पर रहा। पाकिस्तान और जापान के एक बराबर चार – चार अंक रहे लेकिन पाकिस्तान ने बेहतर गोल औसत के आधार पर दूसरे स्थान पर रहते हुए सुपर फोर में जगह बना ली। भारत और पाकिस्तान अब सुपर फोर में पूल बी की दो शीर्ष टीमों के साथ खेलेंगे जबकि जापान और बंगलादेश पांचवें से आठवें स्थान के लिए पूल बी की दो नीचे की टीमों के साथ खेलेंगे। भारत ने अपने पिछले दो मुक़ाबलों में पाकिस्तान को इस वर्ष लंदन में हॉकी वर्ल्ड लीग सेमीफाइनल्स में 7-1 और 6-1 से हराया था। भारतीय टीम ने उस सिलसिले को एशिया कप में भी बरकरार रखते हुए पकिस्तान को 3-1 से पीट दिया। मनप्रीत सिंह की अगुवाई वाली टीम ने इस दबाव वाले मुक़ाबले में अपना संयम और मैच पर पूरा नियंत्रण बनाये रखा।
पहला क्वार्टर गोल रहित रहने के बाद भारत ने 17 वें मिनट में बढ़त बना ली। चिंगलेनसाना ने पाकिस्तानी डी में घुसपैठ करते दो डिफेंडरों के पास रहने के बावजूद शक्तिशाली शॉट से गोल कर दिया।भारत का गेंद पर नियंत्रण रहा जबकि पाकिस्तान ने पेनल्टी कार्नर हासिल किये। सूरज करकेरा ने शानदार बचाव कर पाकिस्तान को बराबरी पर आने से रोक दिया। आधे समय तक भारत की एक गोल की बढ़त कायम रही। तीसरे क्वार्टर में मुक़ाबला संघर्षपूर्ण रहा लेकिन दोनों ही टीमों को गोल नहीं मिल पाया।
मैच के 44 वें मिनट में मनप्रीत दाएं छोर से बेहतरीन पास दिया और रमनदीप ने छलांग लगाते गेंद को डिफलेक्ट कर गोल में पहुंचा दिया। इस गोल से सकते में आये पाकिस्तान को अगले ही मिनट में भारतीय हमले ने हिला दिया। भारत को दूसरा पेनल्टी कार्नर मिला और हरमन की सटीक फ्लिक ने पाकिस्तानी गोल को भेद दिया। हरमन ने टूर्नामेंट का अपना पांचवां गोल कर डाला।
चौथा क्वार्टर शुरू होने के चार मिनट बाद पाकिस्तान को पहली सफलता हाथ लगी जब अली शान ने मैदानी गोल कर दिया। भारत ने इस गोल के बावजूद अपना दबाव बनाये रखा और 58 वें मिनट में लगातार तीन पेनल्टी कॉर्नर हासिल किये। भारत ने दूसरे पेनल्टी कॉर्नर पर स्ट्रोक मांगा लेकिन उसका रेफरल ख़ारिज हो गया। भारत ने यह मुक़ाबला 3-1 से जीत लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.