नजीबाबाद क्षेत्र में बाढ़ का कहर,कई मकान गिरे, कोटद्वार जाने वाली सभी ट्रेनें रद्द…

घरों में पानी घुसाठकीमती सामान बहा, प्रशासन ने पीडि़तों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया

नजीबाबाद। पहाड़ी क्षेत्रों में लगातार बारिश तथा कोटद्वार के पास बादल फटने से मालन नदी में आए उफान से आबादी क्षेत्र में पानी भर गया। कई मकान गिर गए तथा कीमती सामान बह गया। घरों में चूल्हे तक नहीं जले। सूचना देने के कई घण्टे बाद भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचे। पुलिस टीम ने बाढ़ पीडि़तों को घरों से निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया।
पहाड़ी क्षेत्रों में हो रही लगातार बारिश से मालन नदी में अचानक उफान आ गया। तड़के नजीबाबाद की कछियाना बस्ती, मौहल्ला रम्पुरा, ग्राम मौअज्जमपुर तुलसी, गढ़ी आदि में पानी भर गया। अचानक घरों में पानी भरने से हाहाकार मच गया। लोगों ने मकानों की छतों पर शरण ली।
ग्राम मौअज्जमपुर तुलसी गढ़ी में अशरफ, शराफत, हसीना, अली हसन, शरीफ तथा इकरामुद्दीन सहित अनेक ग्रामीणों के घरों में पानी भर गया, जिससे घरों में रखा राशन व अन्य सामान खराब हो गया। गांव में स्थित सरकारी स्कूल की दीवार भी गिर गई। जिन ग्रामीणों के घरों में पानी भर गया था, उन्होंने छतों पर शरण ली। कई घरों में चूल्हा तक नहीं जला। ग्रामीण घबराए हुए हैं।
कछियाना बस्ती में भी पानी भर गया। कई वर्षों बाद एक बार फिर से बाढ़ के कहर बसरने से बस्ती वालों की चिंता बढ़ गई। बस्ती निवासी रमेश, रामो, विनोद, पारसनाथ, जागीर सिंह, बाबूराम, तिलक पहलवान, रामजीलाल, निक्के सिंह, अनिल, अशोक, कपिल, पूरन तथा परशुराम आदि के घरों में पानी भर जाने से परिजन काफी समय तक बाढ़ में फंसे रहे। परिजनों ने मकानों की छत पर शरण ली। मौ. रम्पुरा तथा टीला मंदिर क्षेत्र में भी मालन का पानी भर जाने से वहां रहने वाले लोगों में हड़कम्प मच गया। बाढ़ से प्रभावित क्षेत्र में अनेक घरों में चूल्हे तक नहीं जले। अभिभावकों ने अपने बच्चों को स्कूल नहीं जाने दिया।
सूचना देने के कई घण्टे बाद भी प्रशासनिक अधिकारियों के मौके पर न पहुंचने पर बाढ़ से प्रभावित लोगों में रोष छा गया। बताया जाता है कि भाजपा नगर अध्यक्ष अजय माहेश्वरी, चौधरी ईशम सिंह, विक्रांत चौधरी, मुकुल अग्रवाल तथा संजीव अग्रवाल आदि ने उपजिलाधिकारी को सूचना देने के लिए उनके मोबाइल फोन पर लगातार प्रयास किया लेकिन उन्होंने फोन उठाना गंवारा नहीं किया। भाजपा नेताओं ने सांसद यशवंत सिंह को स्थिति से अवगत कराया। इस संबंध में सांसद ने जिलाधिकारी से बात की, जिसके बाद एसडीएम मौके पर पहुंचे। भाजपा नेताओं ने भी मौके पर पहुंचकर बाढ़ पीडि़तों की सहायता की। पुलिस कर्मियों ने भी बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में पहुंचकर लोगों की मदद की तथा उन्हें पानी से निकाला। पुलिस ने पशुओं को भी सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.