एच-1बी वीजा: लाखों भारतीयों को नहीं छोडऩा पड़ेगा अमेरिका…

वाशिंगटन, 09 जनवरी। अमेरिका में रह रहे और काम कर रहे विदेशी नागरिकों को नये साल का तोहफा देते हुए अमेरिकी सरकार ने एच-1 बी वीजा नियमों को जटिल बनाने के प्रस्ताव पर रोक लगा दी है जिससे सात लाख से अधिक भारतीयों को भी बड़ी राहत मिली है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिकी नागरिकता एवं आव्रजन सेवा विभाग (यूएससीआईएस) ने आज घोषणा की कि वह ऐसे किसी नियामक बदलाव पर विचार नहीं कर रहा है जिसके कारण हजारों की संख्या में अमेरिका में स्थायी निवास के लिए आवेदन करने और वर्षों से काम कर रहे लाखों एच-1 बी वीजा धारकों को देश छोड़कर जाना पड़े। अगर एच-1बी वीजा नियमों में बदलाव किया जाता तो वहां काम कर रहे आधे से अधिक भारतीयों को देश छोडऩा पड़ जाता। यूएससीआईएस के मीडिया मामलों के प्रमुख जोनाथन विदिंगटन ने कहा यूएससीआईएस ऐसे किसी परिवर्तन पर विचार नहीं कर रहा है जो एच-1 बी वीजा धारकों को अमेरिका छोडऩे के लिए मजबूर करे। कानून उन्हें एच-1 बी वीजा में छह साल की सीमा से ज्यादा बढ़ोतरी की अनुमति प्रदान करता है। गौरतलब है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कुछ समय पहले एच-1बी वीजा नियमों में बदलाव और उसकी अवधि बढ़ाये जाने पर रोक लगाने की बात कही थी। कई अमेरिकी सांसदों और संगठनों ने ट्रंप प्रशासन के उस प्रस्ताव की आलोचना की थी। वीजा नियम कठोर होने से करीब 7.5 लाख भारतीयों को अमेरिका छोड़कर स्वदेश लौटना पड़ सकता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.