अनुपम खेर बने भारतीय फिल्म एवं टेलीविजन संस्थान के अध्यक्ष…

नयी दिल्ली, 11 अक्टूबर। हिन्दी फिल्मों के सुप्रसिद्ध अभिनेता अनुपम खेर को पुणे स्थित भारतीय फिल्म एवं टेलीविजन संस्थान (एफटीआईआई) का नया अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। श्री खेर का कार्यकाल तीन वर्ष का होगा। वह श्री गजेन्द्र चौहान का स्थान लेंगे, जिनका कार्यकाल गत मार्च में पूरा हो चुका है। श्री खेर ने अपनी नियुक्ति पर कहा कि यह उनके लिए बड़े सम्मान की बात है और वह पूरी क्षमता के साथ अपनी जिम्मेदारी निभायेंगे। उन्होंने ट्वीट किया,” मैं प्रतिष्ठित एफटीआईआई का अध्यक्ष नियुक्त किए पर सम्मानित महसूस कर रहा हूं । मैं पूरी क्षमता के साथ अपना कर्तव्य निभाऊंगा।” उल्लेखनीय है कि श्री चौहान को अध्यक्ष बनाये जाने पर खासा विवाद हुआ था और छात्रों ने उनकी नियुक्ति के विरोध में कई दिनों तक कक्षाओं का बहिष्कार किया था। बासठ वर्षीय खेर सिनेमा और नाट्य जगत की मशहूर हस्ती हैं। उन्होंने अब तक पांच सौ से अधिक फिल्मों और 100 से अधिक नाटकों में काम किया है। कला जगत में उल्लेखनीय योगदान के लिए श्री खेर को पद्मश्री और पद्मभूषण से सम्मानित किया जा चुका है।
उनकी कुछ प्रमुख फिल्में हैं: सारांश, कर्मा, खोसला का घोंसला, संसार, दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे, मैंने गांधी को नहीं मारा, ए वेंस्डे आदि।श्री खेर ने कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार हासिल किए हैं। उन्हें पांच बार सर्वश्रेष्ठ हास्य अभिनेता का फिल्म पुरस्कार मिल चुका है। उन्होंने कुछ लोकप्रिय विदेशी फिल्मों में भी काम किया है, जिनमें 2002 के ग्लोडन ग्लोब के लिए नामित ‘ बेंड इट लाइक बेकहमÓ, 2007 में ग्लोडन लॉयन पुरस्कार हासिल करने वाली फिल्म ‘लस्टÓ और 2013 की ऑस्कर विजेता फिल्म ‘सिल्वर लाइनिंग्स प्लेबुकÓ शामिल हैं।
श्री खेर अभिनेता होने के साथ ही लेखक भी हैं। उन्होंने एक पुस्तक लिखी है, जिसका नाम है- ‘ द बेस्ट थिंग अबाउट यू इज यूÓ। वह केन्द्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड के अध्यक्ष भी रह चुके हैं। रोचक बात यह है कि वह राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय में छात्र रहे और बाद में 2001 से 2004 तक इसके निदेशक भी रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.